Saturday, April 17, 2021

Sunday, May 10, 2020

Sunday, March 10, 2019

Thursday, February 14, 2019

आतंक

शायद ये बहुत बड़ी कामयाबी है,
तुम लोगों के लिए।
एक नई दुनिया की ओर तुम्हारे कदम बढ़ रहे है.

नई मूछें, नई दाढ़ी
नए जेहाद के सपने
कुछ नया खून जो उबाल खा रहा है।।।

विद्रोह को तत्पर, बंदूक और बमों से भरी तुम्हारी तस्वीरें।।।
अपनी मां की कोख को बदनाम करते तुम
किसके सपनो के लिए मौत मांग रहे हो?????

कौन है जो कश्मीर की जिंदगी नही चाहता????
ढूंढ सकते हो??????

तुम्हारी लाशों में हिस्सेदारी की महिमा गाते
ये नफरत भरे चेहरे ।।।।
तुमको क्या दे रहे हैं????
एक टूटा कश्मीर, खून से सना कश्मीर।।।।
बूढ़ों का कश्मीर, रोती माँओं का कश्मीर।।।।।।।

प्रेयसी और बच्चों के सुख से मरहूम
अकाल मौत के  भोगियों....
सड़कों, अस्पतालों, स्कूलों
 किलकिलाते बचपन के हत्यारों।।।।।।।
कभी सोंचा है कि इसका अंजाम क्या है।।।।।।

तुमने किसको मारा?????

तुमने कश्मीरियों के अरमानों को मारा।।।।।
तुमने मां बाप के परिवारों को मारा।।।।
तुमने सड़कों को मारा
तुमने अस्पतालों को मारा
तुमने पढ़ने जाने वाले नौनिहालों को मारा
तुमने अनाज को मारा, तुमने पानी को मारा
तुमने भारत के विश्वास को मारा।।।।
तुमने एक माला में गुंथे,,
इंसानियत के सपने को मारा।।।।।

तुमने कभी सोंचा है भारत क्या है?
तुम्हारे और हमारे पुरखों की धरती को
किसके कहने पर ख़ूनी कर दिया????

अपने खून को बहा कर, खुशी मनाने वालों
कैसे निर्दयी हो चुके हो?????
बस ज्यादा क्या लिखूँ
लीबिया, इराक़, सीरिया, मिस्र, अफगानिस्तान और पाकिस्तान
की राह पर जाने वालों......
दोझख के उम्मीदवारों......
क्या सच में तुम अपनी जड़ों को उखाड़ने वाले.....
वही अमानव हो ??????
जिसके लिए हमारा क्षत विक्षत भविष्य सवाली है.......

राम सिंह यादव
www.theforestrevolution.blogspot.com




Wednesday, December 20, 2017

दुधवा लाइव: आखिरकार.. मानव जंगलों में भागकर अपनी जान बचा रहा ...

दुधवा लाइव: आखिरकार.. मानव जंगलों में भागकर अपनी जान बचा रहा ...: Photo Courtesy: NASA प्रकृति के विनाश की पुरजोर कोशिशो में  लगा मानव और इन भयावह हालातों पर वेदनाओं की बेहतरीन अभिव्यक्ति की राम स...

Saturday, September 16, 2017

Tuesday, March 17, 2015